दिल्ली के ‘बंटी-बबली’ जो ड्रग्स के लिए करते थे चेन स्नैचिंग

अपनी ड्रग्स की लत पूरी करने के लिए दोनों ने चेन स्नैचिंग और चोरी शुरू कर दी. राजू बाइक चुराता था और फिर अंजलि के साथ मिलकर स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देता था.


दिल्ली

दिल्ली की शातिर ‘बंटी-बबली’ जोड़ी आखिरकार पुलिस के शिकंजे में फंस ही गई. ड्रग्स की  अपने लत को पूरी करने के लिए वह दोनों चेन स्नैचिंग और चोरी की वारदात को अंजाम दिया करते थे.  दर्जनों चेन स्नैचिंग और चोरी की वारदात को अंजाम देने वाले राजू और अंजलि को दिल्ली एएटीएस ने गिरफ्तार कर लिया.

पालम इलाके के रहने वाले राजू और सागरपुर की अंजलि की दोस्ती एक पार्क में हुई थी. दोनों की दोस्ती बढ़ी और खराब आदतें भी. दोनों लगातार पार्क में मिलते थे. राजू पहले से ही ड्रग्स का आदी था और इसकी लत अंजलि को भी लग गई. इसी के साथ ड्रग्स की डिमांड बढ़ी और पैसे की जरूरत भी.

अपनी ड्रग्स की लत पूरी करने के लिए दोनों ने चेन स्नैचिंग और चोरी शुरू कर दी. राजू बाइक चुराता था और फिर अंजलि के साथ मिलकर स्नैचिंग की वारदात को अंजाम देता था. पुलिस ने ‘बंटी-बबली’ को सीसीटीवी फुटेज की मदद से गिरफ्तार किया. डीसीपी मोनिका भारद्वाज ने बताया कि दोनों के पास से पुलिस टीम ने चार स्मार्टफोन और वारदात में इस्तेमाल की जाने वाली बाइक बरामद की है.

पुलिस के अनुसार हाल के दिनों में हुए लगातार स्नैचिंग की वारदात की जब छानबीन की गई तो वाहन चोरी निरोधक दस्ते के इंस्पेक्टर मनोज कुमार की टीम को 2 सीसीटीवी फुटेज मिले. सीसीटीवी फुटेज की मदद से पुलिस दोनों तक पहुंचने में कामयाब रही. पुलिस टीम ने मायापुरी चौक के पास जाल बिछाकर दोनों को पकड़ा. दोनों चोरी की बाइक पर वहां से गुजर रहे थे. बरामद की गई बाइक पटेल नगर थाना क्षेत्र से चुराई गई थी.

वहीं तलाशी के बाद दोनों के पास से 4 मोबाइल भी पुलिस ने बरामद किए. ये मोबाइल पंजाबी बाग, विकासपुरी और जनकपुरी थाना क्षेत्रों से छीने गए थे. पुलिस ने इनकी गिरफ्तारी से आधा दर्जन स्नैचिंग, चोरी और वाहन चोरी के मामलों का पता लगाया है. पुलिस को उम्मीद है कि इनसे पूछताछ के बाद और भी मामलों के बारे में पता लगेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *