भूख से तड़पते बच्चे को मां ने गला दबा कर मार डाला

पुलिस पूछताछ में रुखसार ने बताया कि वह तीन दिन से बच्चे के लिए दूध का इंतजाम भी नहीं कर पा रही थी, इसलिए गला दबाकर मार डाला।

 

कन्नौज

यूपी के कन्नौज जिले के छिबरामऊ कस्बे में तिल-तिल को मोहताज महिला को जब भूख से तड़पते अपने बच्चे की चीखें बर्दाश्त नहीं हुईं, तो उसने गला दबाकर बच्चे को मार डाला । मामला खुला तो पुलिस मौके पर आई।  खबरों  के अनुसार, पोस्टमॉर्टम में बच्चे की हत्या की पुष्टि हुई है।

छिबरामऊ थाने के इंस्पेक्टर बलराम मिश्रा के अनुसार, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आते ही कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

पुलिस के अनुसार, छिबरामऊ के बिरतिया मोहल्ले की रुखसार के तीन बच्चे हैं। मुंबई में नौकरी करने वाले पति शाहिद से उसका झगड़ा हो गया था। इस कारण 4-5 महीने से वह घर पर रुपये भी नहीं भेज रहा था।

मुश्किल हालात में रुखसार किसी तरह अपने बच्चों का पेट भर रही थी। कुछ महीने पहले उसके 8 महीने के बेटे अहद को खून में संक्रमण हो गया था। जेवरात और घर का सामान बेच 90 हजार रुपए से अहद का आगरा में इलाज करवाया गया। 3-4 दिन से उसके पास एक रुपया भी नहीं था।

गुरुवार शाम बुखार से तपते बेटे को लेकर रुखसार डॉक्टर के पास पहुंची, लेकिन उधार चुकाए बिना वह दवा देने को तैयार नहीं हुए। इस बीच बच्चा भूख से भी बिलबिला रहा था। सुबह करीब 6 बजे रुखसार ने बच्चे को पानी में चीनी घोलकर पिलाई। वह सो गया।

सुबह 8:30 बजे तक बच्चा नहीं उठा तो करीब में रहने वाले परिवार के लोगों को शक हुआ। बच्चों ने बताया कि मां ने भाई को गला दबाकर मार डाला। पुलिस पूछताछ में रुखसार ने बताया कि वह तीन दिन से बच्चे के लिए दूध का इंतजाम भी नहीं कर पा रही थी, इसलिए गला दबाकर मार डाला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *