पूजा के बहाने श्मशान में महिला से बलात्कार, 2 तांत्रिक गिरफ्तार

घरेलू बीमारी से परेशान महिला तांत्रिक के पास पहुंची थी। महिला की बातों को सुनने के बाद तांत्रिक ने कहा कि तुम्हारे ऊपर प्रेत आत्माओं का वास है। इसलिए शमशानघाट में पूजा करवानी होगी।

 

सोलन

शमशानघाट में पूजा की आड़ में तांत्रिक गुरु-चेले ने महिला के साथ बलात्कार किया। पुलिस ने कथित तांत्रिक प्रकाश चंद (42) और उस के चेले ज्ञान प्रकाश (56) को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रारंभिक छानबीन में पता चला है कि घरेलू बीमारी से परेशान महिला तांत्रिक के पास पहुंची थी। महिला की बातों को सुनने के बाद तांत्रिक ने कहा कि तुम्हारे ऊपर प्रेत आत्माओं का वास है। इसलिए शमशानघाट में पूजा करवानी होगी। तांत्रिक ने कहा कि रविवार के दिन शमशानघाट में यह पूजा करवानी होगी, उसके बाद महिला ने पति से पूछा। पति को महिला ने बताया कि उसके साथ एक अन्य महिला भी बच्चे के साथ वहां पूजा करवाने आ रही है।

पति ने यह सोच कर उसे भेज दिया कि दो महिलाएं एक साथ सुरक्षित होंगी। महिला कथित तांत्रिकों के पास पहुंची और रविवार को तांत्रिकों ने छल कपट से उसे गाडी में बिठाया और सिरमौर जिला के नारग स्थित प्रकाश चंद के घर ले गए। दिन करीब चार बजे वह सोलन स्थित कनाह से चले और शाम को नारग में महिला को अंधेर कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद पूरी रात उनके साथ दोनों ने दुराचार किया और सुबह महिला उनके चंगुल से भागकर फरार हो गई।

महिला किसी तरह पहले अपने घर पहुंची और उसके अगले दिन महिला ने पुलिस थाना में इस सारे घटनाक्रम की जानकारी दी। महिला की शिकायत पर पुलिस ने कथित तांत्रिकों के अडडे पर दबिश दी। इस दौरान दोनों तांत्रिक घर के समीप खेत में बडा हवन यज्ञ करवा रहे थे। यहां काफी लोग पूजा करवाने पहुंचे थे, जैसे ही लोगों ने पुलिस को देखा और तांत्रिकों के कारनामे को सुना तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। पुलिस दोनों को गिरफतार कर लिया है। पुलिस ने गुरूवार को उन्हें अदालत में पेश किया जहां से उन्हें पांच दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है।

जानकारी मिली है कि इन कथित तांत्रिकों के पास रोजाना 200 से 300 लोग पूजा व हवन करवाने पहुंचते हैं। लोगों की मजबूरी का लाभ उठाकर यह उनसे पैसों के साथ साथ उनकी इज्जत को लूटते हैं। बताया जा रहा है कि जब पुलिस उन्हें गिरफतार करने गई तो वहां 50 के करीब लोग पूजा करवा रहे थे।

जानकारी के मुताबिक पुलिस ने सामूहिक बलात्कार का मामला आईपीसी की धारा-376 (2जी) के तहत दर्ज किया है। इसके अलावा आईपीसी की धारा-420, 365, 366, 342, 120बी व 506 के तहत कार्रवाई की जा रही है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. शिव कुमार ने कहा कि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। अदालत से उन्हें पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है। उन्होंने बताया कि महिला को नारग में ले जाकर दुष्कर्म किया गया। गौरतलब है कि गिरफ्तार तांत्रिकों के एक साथी के खिलाफ पहले भी दुष्कर्म का मामला 2010 में दर्ज हो चुका है। उस मामले में भी इन लोगों से ताल्लुक बताया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *